मंगलवार, फ़रवरी 7, 2023

अनार खाने के फायदे और नुकसान – हैरान करने वाली जानकारी

“एक अनार और सौ बीमार” यह कहावत तो आपने सुनी ही होगी। इस कहावत से अंदाजा लगाया जा सकता है कि अनार खाने के फायदे कितने ज्यादा है, और वह कितने औषधीय गुणों से भरपूर है। अनार के फायदे कितने होते हैं, इस बात का अंदाजा आप इस बात से भी लगा सकते हैं, कि जब भी कोई व्यक्ति बीमार होता है तो डॉक्टर उसे अनार खाने के लिए या फिर अनार का जूस पीने की सलाह देते हैं।

अनार के औषधीय गुण हमें सिर्फ बीमारियों से दूर रहने में मदद नहीं करते बल्कि उन बीमारियों का इलाज करने में भी अनार बहुत सहायक है। इसके साथ साथ अनार एक बहुत ही स्वादिष्ट फल भी है। अनार में विटामिन, फाइबर, पोटेशियम, आयरन, ओमेगा 6 और जिंक जैसे तत्व होते हैं, जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

लेकिन अनार के फायदे के साथ-साथ कुछ नुकसान भी है, जिनके बारे में आप जरूर जानना चाहेंगे। चलिए जानते हैं अनार के फायदे और अनार के नुकसान के बारे में।

अनार खाने के फायदे – Anar ke fayde in Hindi

अनार एक स्वादिष्ट और बहुत ही गुणकारी फल है। अनार में मौजूद औषधीय गुण अलग-अलग बीमारियों से लड़ने की ताकत देते हैं। अलग-अलग विधियों और मात्राओं में अनार को प्रयोग करके हम अनेक प्रकार की बीमारियों में अनार का लाभ उठा सकते हैं।यहाँ पर आप अनार खाने के फायदे दिए हुए हैं, जिन्हें हमने अनार खाने के फायदे, अनार जूस से फायदे, पुरुषों के लिए अनार के फायदे, महिलाओं के लिए अनार के फायदे, बच्चों के लिए अनार के फायदे में वर्गीकृत किया है।

  • अनार के सेवन से खून बढ़ता है – जिन व्यक्तियों को पीलिया और एनीमिया जैसी बीमारी होती है, उन व्यक्तियों के शरीर में खून की कमी हो जाती है। यदि आप नियमित अनार का सेवन करते हैं तो यह पीलिया और एनीमिया जैसी बीमारी से दूर रखने में आपकी मदद करता है। इसमें मौजूद आयरन तत्व की वजह से आपके शरीर में होने वाली खून की कमी को यह दूर करता है।
  • दस्त रोकने में सहायक – अनार फल का छिलका दस्त रोकने में बहुत उपयोगी होता है। जिन व्यक्तियों को दस्त की समस्या रहती है, उन्हें अनार छिलके के बने हुए चूर्ण के सेवन से लाभ होता है।
  • अनार पेट के कीड़े खत्म करता है – यदि किसी बच्चे या व्यक्ति को पेट में कीड़े हैं तो अनार खाने से कीड़े खत्म होते हैं। इसके अलावा अनार से पेट के कीड़े खत्म करने के लिए घरेलू नुस्खा तैयार करके, तुरंत फायदा लिया जा सकता है।
  • कोलेस्ट्रोल की समस्या – कोलस्ट्रोल बढ़ने के कारण दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। यदि नियमित तौर पर अनार का सेवन किया जाए तो यह कोलेस्ट्रोल बढ़ने नहीं देता और कोलेस्ट्रोल को कम करने में मदद करता है। यदि कोई व्यक्ति कोलेस्ट्रोल की दवाई लेता है तो उसे हर रोज एक अनार जरूर खाना चाहिए।
  • नींद ना आना – अनार का नियमित सेवन करने से नींद न आने की बीमारी दूर होती है। यदि कोई व्यक्ति नींद न आने की समस्या से पीड़ित है तो उसे हर रोज अनार का सेवन करना चाहिए। नींद आने के घरेलू उपाय पढ़े।
  • मसूड़ों की समस्या – अनार का सेवन करने से मसूड़ों से खून आना और मसूड़ों से पानी आना बंद हो जाता है। यदि आपकी समस्या से अधिक परेशान हो तो आप हमार की कलियों का चूर्ण कर इसका मंजन करें।
  • भूख बढ़ाने में सहायक – अनार खाने से भूख बढ़ती है। यदि कोई बच्चा या बड़ा भूख ना लगने की बीमारी से परेशान है तो उसे अनार का सेवन करना चाहिए। अनार का सेवन करने से भूख बढ़ती है और अच्छी सेहत बनी रहती है।

अनार जूस के फायदे – Anar juice ke fayde

  • गुर्दे की पथरी – अनार में मौजूद क्षारीय गुण गुर्दे में बनने वाली पथरी को रोकता है। इसमें मौजूद मिनरल क्रिस्टल्स की वजह से पथरी बनती है लेकिन अनार में मौजूद पोटैशियम उन मिनरल क्रिस्टल को बनने से रोकता है। इसके नियमित सेवन से मूत्र में एसिड का स्तर सही रहता है।
  • उल्टी रोकने में सहायक – अनार के जूस में आधी मात्रा में चीनी मिलाएं और उसे गुनगुना कर ले। अब इस मिश्रण का सेवन करने से उल्टी की परेशानी से छुटकारा मिलता है।
  • खून की कमी – अनार जूस पीने से खून की कमी दूर होती है। जो व्यक्ति पीलिया जैसी बीमारी से ग्रस्त है उन्हें अनार जूस का सेवन करना चाहिए क्योंकि यह बड़ी ही तेजी से खून की कमी को दूर करता है।
  • वजन घटाने में सहायक – सुबह नाश्ते के समय एक गिलास अनार जूस का सेवन करने से बढ़ते वजन को नियंत्रित किया जा सकता है। खाली पेट अनार-जूस के सेवन से बढ़ा हुआ वजन कम होता है और फैटी सेल्स बनना भी कम हो जाता है।
  • मुंह के छाले – अनार का जूस पीने से मुंह के छाले ठीक होते हैं। मुंह के छाले ठीक करने के लिए अनार के जूस को आप थोड़ी देर मुंह में रख सकते हैं, जिससे अधिक फायदा होगा।
  • एंटी ऑक्सीडेंट – अनार के जूस में पॉलिफिनॉल्स और एंथोसाइएनिन मौजूद होते हैं जो रोगों से लड़ने वाले एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। रेड वाइन और ग्रीन टी की तुलना में अनार के रस में 3 गुना अधिक एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद होते हैं जो रोगों से लड़ने में मदद करते हैं।
  • ब्लड प्रेशर – जिन व्यक्तियों को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या रहती है, वह हर रोज एक अनार या फिर एक गिलास जूस सुबह खाली पेट ले। ऐसा करने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या दूर होगी।
  • मांसपेशियों में दर्द – उम्र बढ़ने के साथ-साथ मांसपेशियों में दर्द एक आम बात है। यह समस्या वर्कआउट करने वाले व्यक्ति या महिला के साथ भी देखी जाती है। वर्कआउट करने से मांसपेशियां टूटती है और उनकी रिकवरी करने में यह मदद करता है। यदि आप वर्कआउट करते हैं या आपकी उम्र ज्यादा है तो शरीर की क्षमता को बढ़ाने के लिए अनार का सेवन करना चाहिए।

पुरुषों के लिए अनार के फायदे

  • पुरूष यौन ताकत – पुरुषों के लिए अनार काफ़ी फायदेमंद होता है। इसके सेवन से थकान, शारीरिक कमजोरी दूर होती है और यह यौन ताकत बढ़ाने मदद करता है।
  • स्पर्म काउंट बढ़ाने में सहायक – जिन व्यक्तियों के स्पर्म काउंट कम है, उन्हें नियमित अनार का सेवन करना चाहिए। एक रिसर्च में यह पाया गया है कि अनार का हर रोज सेवन करने से स्पर्म काउंट बढ़ता है।
  • PSA स्तर कम करता है – PSA कास्टर अधिक होने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। और अनार के सेवन से पुरुषों में PSA का स्तर कम होता है जो पुरुषों को कैंसर होने से बचाता है।

महिलाओं के लिए अनार के फायदे

  • गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद – अनार में मिलने वाले मिनरल्स, विटामिन, फ्लोरिक एसिड जैसे तत्व गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए फायदेमंद होते हैं। यदि गर्भवती महिलाएं अनार का सेवन करती हैं तो उनके शरीर में खून की कमी नहीं होती और यह शरीर के लिए जरूरी खून की मात्रा वह पानी की मात्रा को बनाए रखता है। अनार का ज्यादा सेवन गर्भपात का कारण बन सकता है, इसीलिए अनार का सेवन सीमित मात्रा में करें। इसके लिए आप अपने डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं।
  • स्तनों का ढीलापन – कई महिलायें अपने स्तनों के ढीलेपन से परेशान हैं।।अनार के उपयोग से इस समस्या से छुटकारा मिलता है। अनार के पत्ते, फूल, छिलका, कच्चे अनार, जड़ की छाल की एक बराबर मात्रा लेकर मोटा पीस लें और इस मिश्रण से 2 गुना सिरका और 4 गुना गुलाब जल में मिलाएं। 4 दिन तक इस मिश्रण को ऐसा ही रखे रहें और इसके पश्चात इसमें सरसों का तेल मिलाकर धीमी आंच में पका लें। जब दिल की मात्रा थोड़ी सी रह जाए तो इस मिश्रण को ठंडा करके बोतल में भर लें और स्तनों पर इसकी मालिश करें। अनार के पत्तों से रस से भी इस समस्या से निजात पाई जा सकती है।
  • प्रजनन क्षमता बढ़ाता है – अनार का फल प्रजनन क्षमता बढ़ाने में सक्षम होता है। ऑक्सीडेटिव तनाव महिला में लोगों को नुकसान पहुंचा सकता है। अनार का सेवन करने से यह ऑक्सीडेटिव तनाव कम होता है जिससे महिला प्रजनन क्षमता बढ़ती है।
  • त्वचा और बालों के लिए फायदेमंद – अनार का सेवन करने से फ्री रेडिकल्स की क्रिया रूकती है और कम होती है, जिससे बाल व त्वचा स्वस्थ बनी रहती है।

पुरुषों और महिलाओं के लिए शतावरी के फायदे

बच्चों के लिए अनार के फायदे

  • सूखा रोग में लाभ – सूखा रोग में बच्चों के शरीर की आकृति कंकाल जैसी होने लगती है और पैर भी टेढ़े हो जाते हैं। यदि कोई बच्चा सूखा रोग से ग्रस्त है तो उसे अनार की कली के रस में थोड़ा दूध मिलाकर उसका सेवन करवाना चाहिए। 20 ग्राम अनारकली के रस में बराबर मात्रा में दूध मिलाकर देने से सूखा रोग में लाभ मिलता है।
  • तेज दिमाग – जो बच्चे अल्जाइमर की बीमारी का शिकार है उन्हें अनार से फायदा मिलता है। अल्जाइमर की बीमारी में दिमाग तेजी से काम नहीं करता, लेकिन यदि नियमित तौर पर अनार का सेवन किया जाए तो यह अल्जाइमर बीमारी को कम करने में बहुत फायदेमंद होगा।
  • पाचन समस्या से छुटकारा – अनार का सेवन करने से पाचन समस्या दूर होती है। यदि खाना पचाने में समस्या होती है तो नियमित अनार के सेवन से इस पाचन समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

अनार के पत्तों के फायदे

  • बाल झड़ने की समस्या – अनार के पत्तों में मौजूद तत्व बाल झड़ने की समस्या को जड़ से खत्म कर सकते हैं। अनार के पत्तों का पेस्ट और सरसों तेल का मिश्रण बालों पर लगाने से गंजेपन की समस्या और बाल झड़ने की समस्या दूर होती है।
  • चेहरे के दाग धब्बे – जिन महिलाओं के चेहरे पर झाई है, या कील वह काले धब्बे मौजूद है, वह फल पत्तों से इस परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं। अनार के ताजा हरे पत्तों का रस और सरसों तेल का मिश्रण चेहरे पर लगाने से छाई, काले धब्बे और कील इत्यादि जैसी समस्याएं नहीं रहती है।
  • हाथ-पैर में सूजन – कई व्यक्तियों को हाथ या पैर में सूजन की समस्या रहती है। अनार के पत्तों को पीसकर उसका लेप सूजन वाली जगह पर लगाने से यह समस्या दूर होती है। इस लेप को आप हथेली और पैर के तलवों पर लगाकर इसका अधिक लाभ उठा सकते हैं।
  • त्वचा पित्त की बीमारी – यदि आपकी त्वचा पर पित्त उभर आती है, तो लगभग 5 लीटर पानी में 250 ग्राम अनार के पत्तों को उबाल लें। इस पानी से स्नान करने पर त्वचा पर पित्त की समस्या दूर होती है।
  • स्तनों के ढीलेपन की समस्या – अनार के पत्तों का 1 लीटर रस में आधा लीटर तिल का तेल मिलाकर धीमी आंच पर पकाएं और जब यह मिश्रण लगभग 1 लीटर रह जाए तब इसे ठंडा करके बोतल में भरकर रख लें। दिन में तीन बार मालिश करने से स्तनों के ढीलेपन की समस्या दूर होती है।
  • कंठ रोग – अनार के पत्तों का 1 लीटर रस में मिश्री मिलाकर प्रतिदिन 15 से 20ML दिन में दो से तीन बार सेवन करें। इस मिश्रण को हर रोज 2 से 3 बार पीने पर गले की समस्या जैसे आवाज़ का भारीपन, खासी व अन्य रोग दूर होते हैं।

अनार के नुकसान – Anar ke nuksan

अनार खाने के फायदे के साथ-साथ अनार के कुछ नुकसान भी है। ऊपर आपने अनार खाने के फायदे के बारे में पढ़ा, लेकिन कुछ ऐसी बीमारियां हैं जिनके साथ आपको अनार का सेवन नहीं करना चाहिए।

खांसी की समस्या – यदि आप खांसी की समस्याओं से ग्रस्त है तो आपको अनार का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से शंकर में और अधिक बढ़ सकता है।

स्किन पर लाल चकत्ते – जिस व्यक्ति को स्कीम संबंधी कोई बीमारी है, उसे अनार खाने पर स्किन पर लाल चकत्ते हो सकते हैं। यदि आप स्किन पर लाल चकते से परेशान है तो अनार का सेवन ना करके, ऊपर बताए गए तरीके अनुसार अनार के पत्तों का लेप लगाएं जिससे आपको फायदा मिलेगा।

लो ब्लड प्रेशर – जो व्यक्ति हाई ब्लड प्रेशर से परेशान है वह अनार से फायदा उठा सकता है। लेकिन यदि आप कम ब्लड प्रेशर बीमारी से परेशान हैं तो अनार के सेवन से आप खा लो ब्लड प्रेशर और अधिक नीचे गिर सकता है जो नुकसानदायक हो सकता है।

अनार का सेवन कब और कैसे करे ?

सुबह खाली पेट अनार या अनार जूस का सेवन करना अच्छा होता है। सुबह खाली पेट अनार के सेवन से सेहत को अधिक फायदा पहुंचता है और अनार में मौजूद तत्व और हेल्दी शुगर शरीर को स्वस्थ बनाने और ऊर्जा प्रदान करती है।

अनार में मौजूद औषधीय गुण और पौष्टिक तत्व आपके शरीर को स्वस्थ बनाए रखते हैं और कई घंटों तक आपके शरीर को एनर्जी मिलती रहती है। सो कर उठने के बाद शरीर थका हुआ महसूस करता है। अनार जूस पीने से चुस्ती आती है और सुस्ती दूर भागती है। इसके साथ साथ सुबह-सुबह अनार या अनार जूस का सेवन करने से दिमाग में एक लिक्विड (हैप्पी हार्मोन) का स्राव होता है जिससे हमारा मूड अच्छा होता है।

अनार फल के बारे में कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां

अनार को इंग्लिश में क्या बोलते हैं?Pomegranate
अनार फल का रंगगुलाबी और लाल
अनार का वैज्ञानिक नामप्यूनिका ग्रेनेटम – Punica granatum

सम्बंधित लेख

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

हमसे जुड़े रहें

3,703फॉलोवरफॉलो करें
0सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

नवीनतम लेख