मंगलवार, फ़रवरी 7, 2023

अमरूद के फायदे – सफेद और गुलाबी अमरुद में अंतर

अमरूद को बड़े ही चाव से खाया जाता है और यह बहुत ही स्वादिष्ट फल है। स्वादिष्ट होने के साथ-साथ अमरूद के फायदे भी अनगिनत हैं। दक्षिण एशिया के देशों में अमरुद के पेड़ घरों में लगाए जाते हैं। और दक्षिण एशिया में अमरुद/जामफल का फल ज्यादा मात्रा में खाया जाता है।

अमरूद में कई बीमारियों को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक गुण मौजूद होते हैं। यह हमारे स्वास्थ्य के लिए अत्यंत लाभदायक हैं और अमरुद में विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है जो कई बीमारियों को ठीक करने में मदद करती है।

Note: अमरूद को जामफल भी कहा जाता है, इसीलिए इस लेख में कहीं-कहीं पर अमरूद को जामफल भी लिखा है।

अमरूद के फायदे – Guava Benifits in hindi

  • अमरूद पाचन क्रिया को ठीक करता है, यदि किसी व्यक्ति को पाचन संबंधी समस्या है तो अमरुद को काले नमक के साथ खाना चाहिए। जामफल को काले नमक के साथ खाने से सभी प्रकार की पाचन संबंधी समस्या दूर होती हैं और पाचन क्रिया में सुधार होता है।
  • छोटे बच्चों को पेट में कीड़े हो जाते हैं, यदि कोई बच्चा पेट के कीड़ों से परेशान हैं तो उसे अमरुद का सेवन करवाना चाहिए। अमरुद खाने से छोटे बच्चों के पेट के कीड़े खत्म होते हैं।
  • कच्चे हरे अमरूद को पीसकर उसका पेस्ट बना लें। पेस्ट का सिर पर लेप करने से सिर का दर्द उत्पन्न नहीं हो पाता। यदि सिर में दर्द है तो पिसे हुए अमरुद के पेस्ट के लगाने से यह ठीक होता है।
  • अमरुद का सेवन खांसी और जुकाम ठीक करता है। जामफल के बीज का सेवन करने से जमा हुआ कफ बाहर निकलता है। यदि जमे हुए कब से आप ज्यादा परेशान हैं तो अमरुद के बीज के साथ अमरुद की पत्तियों का सेवन करना चाहिए।
  • ताजा जामफल को पेड़ से तोड़कर चबा चबा कर खाने से सुखी खांसी में लाभ मिलता है।
  • अमरुद खाने से कब्ज की समस्या दूर होती है। सुबह खाली पेट एक या दो पके हुए अमरुद का सेवन करने से कब्ज खत्म होती है।
  • जामफल के पत्ते खाने से मुंह की दुर्गंध दूर होती है। कुछ लोग शराब पीने के पश्चात अमरुद के पत्तों को चबाकर खाते हैं, जिससे मुंह की दुर्गंध दूर हो जाती हैं।
  • अमरुद के पत्तों को चबाने से दांत का दर्द दूर होता है। तुरंत फायदा लेने के लिए अमरुद के पत्तों का काढ़ा बनाएं और उसमें फिटकरी मिलाकर उसका कुल्ला करें। ध्यान रहे कि फिटकरी मिलाने के पश्चात यह मिश्रण पेट में ना जाए।
  • जामफल के पत्तों को कत्थे में मिलाकर पान की तरह चबाने से मुंह के छाले ठीक होते हैं।
  • जामफल के पत्तों को पानी में अच्छी तरह से उबालकर उसमें नमक मिलाकर उसका कुल्ला करने से, मसूड़ों में होने वाले रक्त स्राव और दुर्गंध से छुटकारा मिलता है।
  • नियमित तौर पर अमरूद खाने से दांत स्वस्थ रहते हैं।
  • अमरूद हृदय रोगों में फायदेमंद होता है। अमरुद के बीज निकालकर बाकी बचे हुए अमरुद को शक्कर के साथ मिलाकर चटनी बना लें और उसे धीमी धीमी आंच पर पका लें। अमरुद की चटनी का सेवन करने से हृदय रोग ठीक होते हैं और कब्ज में भी फायदा होता है।
  • यदि किसी वजह से उल्टी हो रही है या उल्टी करने का मन हो रहा है तो अमरुद खाने से फायदा पहुंचता है।
  • अमरूद की तासीर ठंडी होती है इसलिए यह शरीर को ठंडक प्रदान करता है और गर्मी नहीं लगने देता।
  • नियमित तौर पर अमरूद का सेवन करने से हिमोग्लोबिन की कमी दूर होती है।
  • अमरूद के पत्तों को पीसकर गठिया के दर्द की जगह पर लेप करें। ऐसा करने से गठिया के दर्द में आराम मिलता है।
  • अमरुद का सेवन करने से पेट की जलन दूर होती है और दिमाग संबंधित रोगों में भी फायदा पहुंचता है।
  • हर रोज अमरुद का सेवन करने से शरीर में प्रतिरक्षा प्रणाली में सुधार होता है और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है।
  • पके हुए अमरूद खाने से वजन कम होता है।
  • अमरुद में कुछ ऐसे गुण मौजूद हैं जो हमारे शरीर को कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं। अमरुद में मौजूद लाइकोपीन नामक तत्व कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है।

अमरूद खाने के नुकसान

अमरुद एक सेहतमंद फल है लेकिन किसी भी चीज की अधिक मात्रा नुकसानदायक हो सकती है। गर्भवती महिलाओं और स्तनपान करने वाली महिलाओं को अमरुद का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए। अमरूद के ज्यादा सेवन से महिलाओं को डायरिया हो सकता है।

अमरूद के पोषक तत्व

अमरूद पोषक तत्वों से भरपूर एक फल है जो हमें अनेकों बीमारियों से बचाता है। जामफल के पोषक तत्व नीचे दिए गए हैं।

  • एंटीमाइक्रोबियल्स
  • विटामिन सी
  • एंटीफंगल
  • विटामिन के
  • विटामिन B6
  • सॉलिड
  • एंटीडायबीटिक
  • आयरन
  • नियासिन
  • फास्फोरस
  • जिंक
  • कैल्शियम
  • पोटेशियम
  • कार्बोहाइड्रेट
  • कॉपर
  • डाइटरी फाइबर

सफेद और गुलाबी अमरूद में अंतर

  • गुलाबी अमरूद – गुलाबी अमरुद में पानी की मात्रा ज्यादा होती है और चीनी व स्टार्च (मंड) की मात्रा कम पाई जाती है। गुलाबी अमरूद में विटामिन सी की मात्रा बहुत कम पाई जाती है। इसमें बीज की संख्या कम होती है और किसी किसी अमरुद में बीज नहीं पाया जाता। गुलाबी अमरुद में एंटीऑक्सीडेंट तत्व की मात्रा अधिक होती है। इसमें कैरोटीन नाइट नामक ऑर्गेनिक पिगमेंट मौजूद होता है जिसकी वजह से इसका रंग गुलाबी या लाल हो जाता है।
  • सफेद अमरूद – सफेद अमरूद में पानी की मात्रा गुलाबी अमरुद की तुलना में कम होती है और इसमें चीनी, विटामिन सी, स्टार्च और बीज की मात्रा अधिक पाई जाती है। सफेद जामफल में विटामिन सी की मात्रा गुलाबी अमरूद की तुलना में अधिक होती है। चीनी और स्टार्च की मात्रा भी गुलाबी अमरुद की तुलना में अधिक पाई जाती है। खाने में इसका स्वाद गुलाबी अमरुद की तुलना में अधिक मीठा होता है।

पुरुषों के लिए अमरूद के फायदे

पुरुषों के लिए अमरुद का फल बहुत ही फायदेमंद होता है। वैसे तो यह महिलाओं को भी फायदा पहुंचाता है लेकिन अमरुद का पुरुषों के लिए एक अलग महत्व है। नीचे कुछ पुरुषों के लिए अमरुद के फायदे दिए गए हैं।

  • मानसिक स्ट्रेस कम करता है
  • शुक्राणुओं की तादाद बढ़ाने में सहायक
  • सेक्सुअल हेल्थ में सुधार
  • तंदुरुस्त और स्फूर्ति बनाए रखता है

ज़रूर पढ़ें:

सम्बंधित लेख

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

हमसे जुड़े रहें

3,703फॉलोवरफॉलो करें
0सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

नवीनतम लेख